3:13 pm - Wednesday December 17, 6138

अश्लील CD मामला : 12 रु. में कॉपी करने का हुआ था सौदा

vरायपुर। कथित सेक्स सीडी मामले में रायपुर सेंट्रल जेल में बंद विनोद वर्मा के बारे में एसआईटी की जांच में नया खुलासा हुआ है। वेबसाइट पर सेक्स सीडी की कॉपी करने का एड (विज्ञापन) विनोद द्वारा देना पाया गया है। इसके आधार पर दिल्ली के गीतानगर स्थित वीडियो मिक्सिंग और सीडी की कॉपी का काम करने वाले सुपर टोन डिजिटल शॉप के संचालक ईशू नारंग ने प्रति सीडी 12 रुपए की दर से कॉपी करने का सौदा हुआ था। उसने सीडी की 1000 कॉपी की थी। एसआईटी की पूछताछ में नारंग और उसके बेटे ने यह बात स्वीकार की है।

मजिस्ट्रेट के सामने भी ईशू नारंग ने सीडी की कॉपी करने के एवज में 12 हजार रुपए विनोद वर्मा से लेना बताया है। इसी सुबूत के आधार पर विनोद वर्मा की गिरफ्तारी की गई। यहीं नहीं गाजियाबाद स्थित उनके घर से 500 नग अश्लील सीडी बरामद होने को भी अहम सुबूत माना जा रहा है।

पंडरी पुलिस ने विनोद के खिलाफ तैयार की गई केस डायरी में इसका विस्तृत उल्लेख किया है। इसमें यह भी लिखा है कि नारंग की शॉप से जब्त रजिस्टर सीडी की कॉपी का लेखा-जोखा दर्ज है। पूछताछ में ईशू नारंग तथा उसके बेटे विकास ने बताया कि 500-500 सीडी के दो बंडल तैयार कर दुकान में रखने को कहा था।

26 नवम्बर को विजय भाटिया दुकान आकर विनोद का हवाला देते हुए 500 सीडी का बंडल लेकर चले गए थे। पुलिस ने ईशू की मदद से विजय भाटिया की रायपुर से दिल्ली और दिल्ली से रायपुर आने का फ्लाइट टिकट, होटल में ठहरने के सुबूत, मोबाइल लोकेशन भी हासिल की है।

पुलिस का दावा है कि विजय ही सीडी लेकर भिलाई व रायपुर आया था और उसी ने कांग्रेसी नेताओं तक सीडी पहुंचाई थी। सीबीआई ने लौटाई केस डायरी तब नए सिरे से पड़ताल बताया जा रहा है कि एसआईटी द्वारा जुटाए गए सुबूतों को सीबीआई अफसरों ने कमजोर बताकर केस डायरी लौटा दी तब एसआईटी ने 40 दिनों बाद नई दिशा में जांच शुरू की है। संदेहियों के खिलाफ ठोस साक्ष्य के अभाव में सीबीआई ने अभी तक केस रजिस्टर्ड नहीं किया है।

लिहाजा अब एसआईटी संदेह के घेरे में आए कांग्रेस नेताओं के खिलाफ तगड़ा सुबूत जुटाने में जुट गई है। खबर है कि सीडी कांड के लपेटे में आए नेताओं पर दबाव बनाकर सुबूत इकट्ठा करने की कवायद एसआईटी ने शुरू की है।

ऐसा सीबीआई के अफसरों के कहने पर किया जा रहा है। दरअसल सीबीआई जांच का नोटिफिकेशन जारी होने के बाद पिछले महीने जब केस डायरी लेकर एसआईटी की टीम दिल्ली व भोपाल पहुंची तब सीबीआई के अफसरों ने सुबूतों को पर्याप्त नहीं माना था और एसआईटी को और सुबूत जुटाने कहा था।

सीसीटीवी फुटेज पर टिकी निगाह कांग्रेस नेताओं तक सेक्स सीडी कैसे पहुंची, इसका पता लगाने पुलिस अब कांग्रेस नेताओं के घरों के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज भी खंगालने वाली है।

इससे यह भी पता चलेगा कि किन-किन लोगों का नेताओं के बंगले पर आना-जाना हुआ। खासकर पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल के सरकारी और निजी आवास के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे की वीडियो रिकॉर्डिंग निकाली जाएगी।

रिकॉर्डिंग देखने के बाद सीडी पहुंचाने वालों की पहचान आसानी हो पाएगी। इसके आधार पर संबंधितों से पूछताछ कर सुबूत जुटाए जाएंगे। संभवत: इसी हफ्ते सीबीआई भी केस रजिस्टर्ड कर लेगी, तब पूरी केस डायरी मय सुबूत सीबीआई के हवाले कर दी जाएगी।blast-news

वर्मा की रिहाई को लेकर कुर्मी समाज कल करेगा प्रदर्शन

रायपुर। कुर्मी समाज संगठन का मानना है कि सेक्स सीडी कांड में जेल में बंद पत्रकार विनोद वर्मा और कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल के खिलाफ राजनीतिक साजिश की गई है। समाज को कमजोर करने का षडयंत्र रचा गया है। फलस्वरूप कुर्मी समाज द्वारा 8 दिसंबर को राजधानी में एक भव्य रैली का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें समाज के लोगों पर किए जा रहे षडयंत्र का विरोध किया जाएगा।

रैली के लिए जारी किए गए एक पोस्टर में कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, राज्यसभा सांसद छाया वर्मा समेत भाजपा सांसद रमेश बैस के भी शामिल होने का उल्लेख किया गया है। छत्तीसगढ़ मनवा कुर्मी क्षत्रिय समाज के केंद्रीय अध्यक्ष सीताराम वर्मा व उपाध्यक्ष डॉ.रामकुमार सिरमौर से मिली जानकारी के अनुसार कुर्मी क्षत्रिय स्वाभिमान रैली में कई मुद्दों की मांग की जाएगी..

SOURCE BY NAIDUNIA

Filed in: Uncategorized

No comments yet.

Leave a Reply