3:16 pm - Monday January 22, 0435

ओडिशा के ‘दशरथ मांझी’ ने बच्चों के पढ़ाई के लिए पहाड़ काटकर बनाई सड़क

bhaiनई दिल्ली:  बिहार के माउंटेन मैन दशरथ मांझी से तो पूरा देश वाकिफ है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ओडिशा राज्य में भी एक ऐसी ही नजीर पेश की गई है।

कभी स्कूल न जाने वाले ओडिशा के जालंधर नायक ने अपने तीनों बेटों को शिक्षा दिलाने के लिए इस मुश्किल कारनामे को अंजाम दिया है।

लगातार दो साल तक दिन-रात एक करके अकेले पहाड़ काटकर 8 किलोमीटर का रोड बना डाला। इस रोड को 15 किलोमीटर तक और बनाने का लक्ष्य है। ये रोड उनके गांव गुमसही को मुख्य मार्ग से जोड़ता है।

गौरतलब है कि इस गांव में केवल नायक का ही परिवार रहता है, बाकी लोग संसाधनों की कमी के चलते गांव छोड़कर पलायन कर चुके हैं।

नायक आजीविका के लिए सब्जियां बेचता है, लेकिन चाहता है कि उसके बच्चे पढ़ाई करें, ताकि उनका जीवन आसान हो सके। प्रशासन द्वारा कंधमाल उत्सव में सम्मानित होने की बात से नायक काफी खुश है। इसके साथ ही अब जिला प्रशासन की मदद से गांव तक पक्की रोड का निर्माण कार्य पूरा किया जा सकेगा।blast-news

बता दें कि जिलाधिकारी बृंद्धा डी ने जब स्थानीय अखबार में नायक की कहानी पढ़ी तो उन्होंने इसे माउंटेन मैन को सम्मानित करने का फैसला किया। कलेक्टर ने नायक को आर्थिक मदद देने और खंड विकास अधिकारी को और मजदूर लगाकर रोड को पूरा कराने के निर्देश दिए हैं।

नायक की कहानी भी बिहार के माउंटेन मैन दशरथ मांझी जैसी ही है। प्रसव पीड़ा के दौरान अस्पताल न पहुंच पाने के कारण उनकी पत्नी ने दम तोड़ दिया था, जिसके उन्होंने अपने जीवन के 22 साल पहाड़ काटकर सड़क बनाने के लिए लगा दिए।

Filed in: उड़ीसा, ज़रा हटके, टॉप 10

No comments yet.

Leave a Reply