3:11 pm - Saturday November 22, 4324

चुनाव आयोग से शरद यादव को झटका,कहा-नीतीश के नेतृत्व वाला दल ही असली JDU

2Blast News Editor Firoz Siddiqui ,9644670008

नई दिल्ली : चुनाव आयोग द्वारा शरद यादव खेमे की याचिका खारिज किए जाने के बाद नीतीश कुमार के नेतृत्व वाला जदयू ही असली जदयू होगा। वहीं राज्यसभा सचिवालय ने शरद यादव और अली अनवर को नोटिस जारी कर नीतीश खेमे की तरफ से उनकी सदस्यता रद्द करने की याचिका पर एक सप्ताह के भीतर जबाब मांगा गया है। इन घटनाओं से शरद खेमे की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

जदयू में मचे घमासान में मंगलवार को शरद यादव खेमे को दोहरा झटका लगा है। चुनाव आयोग ने शरद यादव खेमे को भेजे एक संदेश में कहा है कि उन्होंने खुद के असली जदयू होने के दावे के समर्थन में दस्तावेज पेश नहीं दिए हैं, इसलिए उनकी याचिका खारिज की जाती है। इससे नीतीश कुमार के नेतृत्व वाला जदयू ही असली जनता दलयू बना रहेगा। पार्टी महासचिव केसी त्यागी ने इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा है कि अब राज्यसभा सभापति को भी पार्टी विरोधी गतिविधियों में दोनों सांसदों की सदस्यता रद्द करने के लिए एक आधार मिल सकेगा।

पार्टी पर दावा खारिज होने से शरद यादव का राज्यसभा सदस्यता वाला दावा भी प्रभावित हो सकता है। असली जदयू के दावे के साथ उन्होंने राज्यसभा सभापति से नीतीश खेमे के सदस्यता रद्द करने की मांग पर कार्रवाई नहीं की जाए। लेकिन अब राज्यसभा सचिवालय ने नीतीश खेमे की तरफ से पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते शरद यादव व अली अनवर की सदस्यता रद्द करने की मांग पर दोनों नेताओं से एक सप्ताह में जबाब मांगा है। नीतीश खेमे ने राजद की रैली में शरद यादव व अली अनवर के भाग लेने के आधार पर सदस्यता रद्द करने की मांग कर रखी है। जदयू महासचिव संजय झा ने कहा है कि पहले भी ऐसा चलन रहा है कि विपक्ष के कार्यक्रम में हिस्सा लेने पर सदस्यता रद्द हुई है। इस बारे में उन्होंने जय नारायण निषाद का उदाहरण भी दिया। चुनाव आयोग में जाकर चुनाव चिन्ह मांगना भी पार्टी विरोधी है।

Filed in: टॉप 10, पॉलिटिक्स, बड़ी खबर, बिहार

No comments yet.

Leave a Reply