3:11 pm - Sunday November 25, 0666

चुनाव सामने दिखते ही भाजपाइयों को भगवान राम याद आ रहे : कांग्रेस

vरायपुर: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ के साथ भारतीय जनता पार्टी के नेताओं द्वारा राजधानी रायपुर में दिए बयानों में अयोध्या में भगवान राम मंदिर बनाये जाने की बातों को देश और प्रदेश की जनता को फिर से भगवान राम के मंदिर के नाम पर भरमाने की नयी कवायद है। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया सचिव सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि योगी यूपी में राममंदिर बनाये जाने की बात कहने की हिम्मत क्यो नही दिखाते? गुजरात और छत्तीसगढ़ में मन्दिर के लिए भाषण देते है यूपी में नही। राम जन्मभूमि मन्दिर तो यूपी में ही बनना है छत्तीसगढ़ और गुजरात में थोड़ी। 1दो दशक से भी अधिक समय से भाजपाई भगवान राम के मंदिर के नाम पर अपनी राजनैतिक दुकान चला रहे हकीकत में इनका भगवान राम की जन्म भूमि और वहाँ पर मन्दिर बनवाने का कोई इरादा है ही नहीं। केंद्र में भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बने तीन साल से ज्यादा हो गए, यूपी में भी भाजपा सरकार बने हुए लगभग साल भर होने जा रहा है क्या प्रयास किया मन्दिर बनाने की दिशा में? भारतीय जनता पार्टी जानती है कि उसकी राजनैतिक दुकान इसी के भरोसे चल रही है जिस दिन मन्दिर बन जायेगा उसदिन से उनके हाथ से हिन्दू समुदाय के एक बड़े वर्ग को भावनात्मक रूप शोषण करने का एक महत्वपूर्ण जरिया निकल जायेगा। जब-जब अयोध्या में मन्दिर बनने के हालात बनते है, कोई बीच का रास्ता निकलते दिखता है तब तब भाजपा से ही जुड़े हुए लोग कोई न कोई अड़ंगा लगा कर मामले को टालने में लग जाते है। जब-जब देश के किसी राज्य में चुनाव होता है या चुनाव होने वाला होता है तब भाजपा अपनी भगवा ब्रिगेड के लोगो को आगे कर मन्दिर का नया सुर छेड़वाती है। इसके पहले भी केंद्र में भाजपा के नेतृत्व में एनडीए की सरकार बन चुकी है तब भाजपा के नेताओं ने मंदिर बनाने को भाजपा का एजेंडा मानने से इंकार कर दिया था। मानने देश की जनता इनके इस चरित्र को अच्छी तरह से समझ चुकी है अब इनका कोई भी नया पैतरा काम नही आने वाला है।

Filed in: छत्तीसगढ़, टॉप 10, पॉलिटिक्स

No comments yet.

Leave a Reply