7:50 pm - Tuesday January 23, 2018

जब जाम में फंसी बारात तो मेट्रो से बारात लेकर पहुंचा दूल्हा

blast-newsकोच्‍च‍ि : मेट्रो ट्रेन सिर्फ सफर ही आसान नहीं कर रही है, कुछ लोगों की जिंदगी में अहम किरदार भी निभा रही है। केरल के रंजीथ और धान्या की जिंदगी में भी कोच्चि मेट्रो एक अहम पड़ाव हो गई है। जिसे शायद ही दोनों कभी भूल पाएं।

23 दिसंबर को रंजीथ और धान्या की शादी थी। दोनों के बीच में जाम खलनायक की तरह आकर खड़ा हो गया था। रंजीथ ने बताया कि पलक्कड़ स्थित अपने घर से सुबह छह बजे परिवार के साथ एर्नाकुलम स्थित मैरिज हाल के लिए निकले थे। 130 किमी की यह दूरी तय करने में तकरीबन साढ़े तीन घंटे का समय लगता है। जाम की वजह से अलुवा तक 100 किमी की दूरी ही तय करने में 11 बज गए। आगे और भयानक जाम था। वहां से 30 किमी की दूरी तय करना बेहद ही मुश्किल लग रहा था। कोई वैकल्पिक रास्ता भी नहीं सूझ रहा था। तभी किसी ने उन्हें सलाह दी कि बेहतर होगा कि वे लोग आगे का सफर मेट्रो से तय करें।

रंजीथ ने बताया कि इसके बाद हम लोग अलुवा मेट्रो स्टेशन पहुंच गए। वहां टिकट खिड़की पर लंबी लाइन लगी थी। लाइन में लगे लोगों को बताया कि आज मेरी शादी है। इस समय तक मुझे वहां होना चाहिए था। इसके बाद लाइन तोड़कर लोगों ने टिकट लेने में हमारी मदद की। इसके बाद हम लोगों ने मेट्रो पकड़ी और मैरिज हाल तक पहुंचे।

कोच्चि मेट्रो ने नवदंपति को दी सौगात

कोच्चि मेट्रो ने अपने फेसबुक पेज पर एक वीडियो अपलोड कर रंजीथ के साथ हुए इस वाकये के बारे में बताया। शुभकामनाएं देते हुए मेट्रो की तरफ से नवदंपती को कोच्चि वन कार्ड भी दिया गया। इससे कैशलेस सफर किया जा सकता है। यह कार्ड होने पर मेट्रो ट्रेन में विशेष प्रवेश की अनुमति भी होती है। कोच्चि मेट्रो का कहना है कि अगर हम यह कहें कि हमने जिंदगी को छुआ है तो यह कोई अतिरंजना नहीं होगी। कोच्चि मेट्रो को इसी साल जून में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरी झंडी दिखाई थी।

Filed in: ज़रा हटके

No comments yet.

Leave a Reply