3:19 pm - Monday February 25, 4137

जानिए,घर-ऑफिस में गुड लक के लिए क्यों रखते हैं लाफिंग बुद्धा

1-copyमुंबई:  आपने अक्सर लोगों के घर या ऑफिस में लाफिंग बुद्धा देखा होगा। हाथों में पोटली या टोकरी, दोनों हाथ ऊपर, हाथों में माला लिए और चेहरे पर बड़ी-सी मुस्कान… आपको कई प्रकार के लाफिंग बुद्धा देखने को मिल जाएंगे। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आखिर ये कौन हैं और कहां से आए हैं। लोग इन्हें गुड लक के लिए अपने पास क्यों रखते हैं? आइये हम इन सभी सवालों के जवाब देते हैं…

महात्मा बुद्ध के कई शिष्य थे, उनमें से एक थे जापान के होतेई। बौद्ध धर्म में ज्ञान की प्राप्ति के लिए लोग सांसारिक मोह-माया छोड़कर पूरी तरह से खुद को समर्पित कर ध्यान में लग जाते हैं। मान्यता है कि जो भी इस ज्ञान की प्राप्ति कर लेता है, वह बौद्ध कहलाता है।blast-news

ऐसा माना जाता है कि जब होतेई ने ज्ञान की प्राप्ति की तो वह जोर-जोर से हंसने लगे। उसी वक्त उनके जीवन का उद्देश्य बन गया कि वह लोगों को खुश रखेंगे और हंसाएंगे। जापान और चीन में वह जहां भी गए, लोगों को हंसाते रहे। इसी वजह से लोग उन्हें हंसता हुआ बुद्धा बुलाने लगे, जिसे इंग्लिश में लाफिंग बुद्धा बोलते हैं।

होतेई के अनुयायियों ने लाफिंग बुद्धा का इतना प्रचार किया कि लोग उन्हें भगवान मानने लगे। साथ ही गुड लक के लिए उनकी मूर्ति घरों में रखने लगे। जानकारी के मुताबिक, जैसे भारत में धन के देवता कुबेर को माना जाता है। ठीक वैसे ही चीन में लाफिंग बुद्धा को भी यही दर्जा दिया गया है।

 

Filed in: कला-धर्म, टॉप 10, लाइफ स्टाइल

No comments yet.

Leave a Reply