7:53 am - Friday September 22, 2017

भाजपा सरकार के खिलाफ मुद्दे उठाने पर जोगी के लोग बेचैन क्यों हो जाते है : कांग्रेस

vरायपुर: छजका नेता विधानमिश्रा, आरके राय द्वारा दिए गए बयान को कांग्रेस ने भाजपा प्रयोजित बयान बताया है। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया सचिव सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि इस बयान के माध्यम से छजका नेताओ ने भाजपा को मदद करने के  अपने मूल एजेंडे को आखिर खुल स्वीकार कर लिया ।ऑंखफोड़वा कांड जिसमे राज्य के सैकड़ो लोगो की आंखों की रोशनी चली गयी 12 लोगो की जान गई थी ।नसबन्दी कांड जिसमे राज्य के 17 महिलाओ की दर्दनाक मौते हो गयी थी। 36000 करोड़ का नान घोटाला भाजपा सरकार चेहरे पर लगा बदनुमा दाग है। महादेव घाट की सरकारी जमीन पर कब्जा किया जाने के मुद्दे को उठाने  पनामा पेपर लीग जैसे मसलो पर विधानसभा में उठाने जोगी और उनके लोगो की पीड़ा होना स्वाभाविक है क्यो की इस दल का गठन रमनसरकार का कांग्रेस के हमलों का बचाव करने के लिए ही हुआ है ,इसीलिए सरकार के खिलाफ विधानसभा में मुद्दे उठते ही छजका के पेट मे दर्द होने लगता है ।22 तारीख को  धान के मुद्दे पर बुलाये गए एक दिवसीय सत्र में भाजपासरकार के द्वारा घोषित किये गए आधे अधूरे बोनस के बदलेकांग्रेस द्वारा पूरे बोनस की मांग और सिर्फ 13 लाख के बदले राज्य के 37.4लाख किसानों को बोनस की मांग विधानसभा में रखने की पुरजोर घोषणा से भाजपा सरकार घबड़ा गयी है इसीलिए हमेशा की तरह भाजपा के सर्वकालिक ट्रबलशूटर लोग सत्र के पहले बयान बाजी कर रहे। कांग्रेस विधायक दल के नेता टी.एस. सिंहदेव के संदर्भ में दिए गए बयान का कांग्रेस प्रवक्ता ने कड़ा प्रतिवाद करते हुए कहा कि  सज्जनता और शालीनता तथा नेतृत्व क्षमता सिंहदेव के संस्कारों में है ।कांग्रेस के नेता को जोगी एन्ड कम्पनी के सर्टिफिकेट की और नसीहत की जरूरत नही ।छजका के मानदंडों में नेतृत्व के लिए षड्यन्त्र कारी और अभद्र होना जरूरी है कांग्रेस में नही।कांग्रेस में भीतराघात और टांग खिंचाई और आपस मे फुट डालने वालों का दौर समाप्त हो चुका है सारे नेता पूरी एक जुटता से राज्य की जनता को भाजपा के कुशासन से मुक्ति दिलाने और कांग्रेस पार्टी की लोक कल्याणकारी सरकार बनाने को कृत संकल्पित है।

Filed in: छत्तीसगढ़, टॉप 10, पॉलिटिक्स

No comments yet.

Leave a Reply