8:00 pm - Tuesday January 23, 2018

ममता बनर्जी के साथ लंदन गए पत्रकार ‘चम्मच’ चुराते पकड़े गए

bhaiनई दिल्ली : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ लंदन गये विशिष्ट पत्रकारों के एक दल को चांदी के चम्मच चुराने के जुर्म में जुर्माना भरना पड़ा है. लंदन के एक होटल के सीसीटीवी में पूरी घटना रिकार्ड हो गई. पत्रकारों के साथ हुई इस घटना से ममता बनर्जी की सरकार को शर्मिन्दगी का सामना करना पड़ा है.

CCTV में कैद हुई घटना

अंग्रेजी ऑनलाइन वेबसाइट आउटलुक के अनुसार ममता बनर्जी के साथ लंदन गये विशिष्ट पत्रकारों के एक दल को चम्मच चुराते हुए सीसीटीवी में देखा गया. मामला बढ़ने पर पत्रकारों के दल के लंदन के उस होटल को पूरे 50 यूरो का जुर्माना दिया है.

आउटलुक के अनुसार कुछ दिनों पहले पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने साथ बंगाल के कुछ विशिष्ट पत्रकारों को लेकर लंदन गई थीं. लंदन में एक लक्जरी होटल में ममता बनर्जी वीवीआईपी मेहमान की तरह रुकी हुई थीं. होटल में डिनर के दौरान ममता बनर्जी के साथ गये पत्रकारों को सीसीटीवी में कुछ सामान चुराते हुए देखा गया.

खबरों के अनुसार सीसीटीवी में जो पत्रकार सबसे पहले चम्मच चुराते हुए देखे गये थे वे बंगाल के एक बंगाली पत्रकार के विशिष्ट पत्रकार हैं. यह पत्रकार ममता बनर्जी के साथ पहले भी कई बार विदेशों के दौरों पर देखे गये थे.

blast-newsसुरक्षा कर्मियों ने पत्रकारों के पकड़ा

सीसीटीवी में पत्रकारों को बेशकीमती सामान चुराते देख वहां मौजूद सुरक्षा कर्मियों ने वहां पर पत्रकारों को आशंका होने पर रोका.

एक ने मना किया फिर निकला चोर

आउटलुक की खबर के अनुसार जब पत्रकारों ने सुरक्षाकर्मियों को अपनी लूट का हिस्सा लौटाना शुरु किया तो दल में मौजूद एक पत्रकार ने कहा कि उसने कुछ भी नहीं चुराया है और उन्होंने वहां मौजूद सुरक्षा कर्मियों को जांच करने की चुनौती भी दे दी.

होटल के सुरक्षा कर्मियों ने पत्रकारों को उनका सहयोग ना करने पर पुलिस बुलाने को कहा. थोड़ी देर बाद उन्होंने भी अपना जुर्म स्वीकार करते हुए पूरा सामान वापस कर दिया. सीसीटीवी में चम्मच चुराते हुए पकड़े जाने पर पत्रकारों के होटल के नियमानुसार वहां उन्हें 50 पाउण्ड का जुर्माना भी भरा.

ममता बनर्जी के साथ लंदन गये पत्रकारों के दल को चुराते हुए पकड़े जाने की खबर प्रकाशित होने पर सोशल मीडिया में लोगों ने प्रतिक्रियाएं देनी शुरु कर दी है. कोई पत्रकारों को गलत कह रहा है तो कोई ममता बनर्जी की सरकार को शर्म करने के लिए कह रहा है.

 

Filed in: टॉप 10, पश्चिम बंगाल, पॉलिटिक्स

No comments yet.

Leave a Reply