5:33 pm - Tuesday January 23, 2018

यहां कुछ अनूठे अंदाज में मनाया जाता है दशहरा

img-20170930-wa0250फरसगांव /कोंडागाँव(सुनील यादव) : सार्वजनिक दशहरा उत्सव समिति के द्वारा ग्राम पंचायत हिर्री में दिनांक 28 सितंबर से 30 सितंबर तक रामलीला कार्यक्रम का मंचन हुआ।

जिसमें प्रथम दिवस रामजन्म द्वितीय दिवस सीता हरण, बाली सुग्रीव युद्ध, एवं दशहरा के मुख्य आकर्षण कार्यक्रम 30/09/2017 को राम रावण का युद्ध संध्याकालीन कार्यक्रम में सीता अग्नि परीक्षा के पश्चात लव कुश कंडिका मंचन किया गया।

कार्यक्रम के सुत्राधार एवं पूर्वजों से रावण मुर्ती के निर्माता श्री रामचंद्र राना के कहे अनुसार यहाँ पर रावण का दहन नहीं होता यहां रावण का वध होता है रामलीला के पश्चात श्री राम जी द्वारा रावण के नाभी मे तीर मारकर उनका वध किया जाता है और रावण के नाभी में अमृत भण्डार से जो अमृत का श्राव होता है उसका तिलक लगाने ग्रामीण जन उमड़ पड़ते है। ऐसी मान्यता है कि अगर कोई तिलक लगता है तो उसे शारीरिक मानसिक एवं आर्थिक रूप से स्वस्थ्य लाभ होता है ।
img-20170930-wa0251ग्रामहिर्री में यहां उत्सव विरासत में मिला है। जिसके पूर्व में सूत्रधार स्वर्गीय इंद्र प्रसाद तिवारी स्वर्गीय राम नाथ पांडे के द्वारा संचालित किया जाता रहा जिसे वर्तमान में रमेश पांडे के बाद सोमचंद यादव को इसकी जिम्मेदारी दी गई है।

कार्यक्रम में अध्यक्ष श्री मदन निषाद सचिव नरेंद्र शार्दुल ग्राम पटेल श्री रूप धर्मराज हितेश साहू सरपंच धनंजय नेताम उप सरपंच श्रीमती शांति बैद्ध एवं पंचगण सहित चारों समाज के ग्राम वासियों का महत्वपूर्ण योगदान रहता है ।

Filed in: रेसिपी

No comments yet.

Leave a Reply