3:13 pm - Friday December 17, 6488

यूपी निकाय चुनाव : कानपुर में बीजेपी का मेयर उम्‍मीदवार आगे….

123लखनऊ: यूूूूपी निकाय चुनाव के नतीजे आने शुरू हो गए हैं. यूपी में 22, 26 और 29 नवंबर को वोटिंग हुई. इस चुनाव में 16 नगर निगम 198 नगर पालिका और 438 नगर पंचायत के लिए वोट डाले गए थे. यूपी निकाय चुनाव के नतीजों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की साख से जोड़कर देखा जा रहा है. उन्होंने इन चुनावों में प्रचार की शुरुआत 14 नवंबर को अयोध्या से की थी, एक महीने में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 26 रैलियां कीं, इस दौरान वो सभी 16 ज़िलों में गए जहां नगर निगम चुनाव हुए. 2012 में मेयर चुनाव में बीजेपी ने 12 में से 10 सीटें जीती थीं.

लाइव अपटेड्स
बीजेपी 
नगर पालिका परिषद सदस्‍य की चार सीटों पर जीत
नगर पंचायत सदस्‍य की 16 सीटों पर जीते
कांग्रेस 
नगर निगम पार्षद की एक सीट जीते
नगर पालिका परिषद की एक सीट जी‍ते
बसपा 
नगर पालिका परिषद की दो सीटें जीते
नगर पंचायत परिषद की तीन सीटें जीते
समाजवादी पार्टी
नगर पंचायत सदस्‍य की 10 सीटें जीते
blast-news
10: 55 AM कानपुर में बीजेपी का मेयर उम्‍मीदवार आगे, सपा प्रत्‍याशी चौथे नंबर पर
10:40 AM मेयर के मतगणना स्थल पर घुसा एक सांड जिसको निकालने के लिए पुलिस ने लाठियां चलाई सुरक्षा व्यवस्था में चूक
10:30 AM – अयोध्या नगर निगम में बीजेपी महापौर के प्रत्याशी ऋषी केश उपाध्याय पहले राउंड में 1219 से आगे.
10:27 AM फ़िरोज़ाबाद मेयर पद  पांचवे चक्र की मतगणना हुई पूरी
बीजेपी की नूतन राठौर को 19789 वोट
सपा की सावित्री देवी गुप्ता को 7412
बसपा की पायल राठौर को 12807
कांग्रेस की शाहजहाँ परवीन को 732
सीतापुर नगर पालिका चुनाव
10:17 AM : लहरपुर से जास्मीर अंसारी BSP आगे.
10:14 AM : मिश्रिख से BJP आगे.
10:13 AM : हरगांव से हरनाम बाबू मिश्र निर्दलयीय आगे.
10:12 AM : महोली से टीटू गुप्ता BJP से आगे.
10:11 AM :सीतापुर से बसपा  की  चंचल आगे
10:10 AM -मेरठ से बीएसपी और मथुरा से कांग्रेस का मेयर उम्‍मीदवार आगे
10:05 AM -16 नगर पालिका परिषद में से 12 में बीजेपी आगे. दो पर बसपा आगे.
9:59  AM – बीजेपी ने नगर पालिका परिषद सदस्‍य की तीन सीटें जीती
9:42  AM – झांसी और फिरोजाबाद में बसपा आगे

9:40  AM – बीजेपी मुरादाबाद, अयोध्‍या के फैजाबाद, वाराणसी, मेरठ, लखनऊ और गाजियाबाद में आगे.

9:00  AM -शुरुआती मतगणना में मुरादाबाद से बीजेपी मेयर उम्‍मीदवार 1000 वोटों से आगे. इस सीट पर बसपा उम्‍मीदवार दूसरे नंबर पर है. पीलीभीत में बीजेपी की बढ़त बरकरार है.
8:40  AM -मेरठ, सहारानपुर, लखनऊ, गाजियाबाद और गोरखपुर में बीजेपी मेयर उम्‍मीदवार आगे चल रहेे हैं.
8:30  AM – लखनऊ में बीजेपी मेयर उम्‍मीदवार संयुक्‍ता भाटिया ने कहा, मैं किसी को अपना प्रतिद्वंद्वी नहीं मानती. मैं नंबर वन हूं, मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता दूसरा या तीसरा कौन होगा.

राज्य निर्वाचन आयुक्त एस. के. अग्रवाल ने अनुसार, अंतिम चरण में 26 जिलों में पांच नगर निगमों, 76 नगर पालिका परिषदों तथा 152 नगर पंचायतों के विभिन्न पदों के लिये करीब 53 प्रतिशत मत पड़े. तीनों चरणों को समग्र रूप से देखें तो औसतन लगभग 52.50 प्रतिशत हुआ. वर्ष 2012 में 46.2 फीसदी मतदान हुआ था.

निकाय चुनावों में सबसे कम मत प्रतिशत नगर निगम क्षेत्रों में हुआ. नगर निगम में औसतन 41.26 प्रतिशत मतदान हुआ. वहीं नगर पालिकाओं में 58.15 फीसदी और नगर पंचायतों में 68.30 प्रतिशत हुआ है. सबसे कम इलाहाबाद में 30.47 प्रतिशत मत पड़े. तीसरे चरण में सहारनपुर, बागपत, बुलन्दशहर, मुरादाबाद, सम्भल, बरेली, एटा, फिरोजाबाद, कन्नौज, औरैया, कानपुर देहात, झांसी, महोबा, फतेहपुर, रायबरेली, सीतापुर, लखीमपुर खीरी, बाराबंकी, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, महराजगंज, कुशीनगर, मऊ, चंदौली, जौनपुर तथा मिर्जापुर में मतदान हुआ.

इस बार नगरीय निकाय चुनावों में कुल 36273 मतदान केंद्र बनाये गये और सिर्फ तीन में पुनर्मतदान की आवश्यकता पड़ी. वहीं, वर्ष 2012 में 33797 मतदान केंद्र में से 17 पर पुनर्मतदान हुआ था. इस दफा चुनाव ड्यूटी के दौरान एक भी मतदानकर्मी की मृत्यु नहीं हुई. मतदान के दौरान इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) को लेकर हुई शिकायतों का जिक्र करते हुए अग्रवाल ने कहा कि आयोग ने इस बार निकाय चुनाव में 32374 ईवीएम लगायी थीं. मानक के अनुसार दो प्रतिशत तक ईवीएम बदलना सामान्य बात है. इस दफा 503 ईवीएम विभिन्न कारणों से बदली गयीं. यह केवल 0.7 प्रतिशत है. इन 503 में से लखनऊ में ही 250 ईवीएम बदली गयी हैं. बहरहाल, ईवीएम को लेकर जो माहौल बनाया गया है, वह सही नहीं है. इसे बेवजह तूल दिया गया है.

मतदाता सूची में गड़बड़ी के सवाल पर निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि आयोग ने निर्णय लिया था कि जिन मतदाताओं ने वर्ष 2015 के पंचायत चुनावों में वोट डाला था, उनका नाम नगरीय निकायों की मतदाता सूची से काट दिया जाएगा. मगर किसी मतदाता का नाम गलत तरीके से काटा जाना अपराध है.

SOURCE BY NDTV

Filed in: इलेक्शन, उत्तर प्रदेश, टॉप 10, बड़ी खबर

No comments yet.

Leave a Reply