3:19 pm - Saturday February 25, 4626

लंदन एडिनबरा यूनिवर्सिटी की लैब में पहली बार बने मानव के अंडे!

1-copyलंदन: आवश्यकता ही अविष्कार की जननी है. इसी तर्ज़ पर वैज्ञानिक, मनुष्य की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर नित नये प्रयोग कर रही है. ऐसा ही एक प्रयोग किया है एडिनबरा विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने जिन्होने पहली बार प्रयोगशाला में सफलतापूर्वक मानव अंडे विकसित करने का दावा किया है. इससे प्रजनन सम्बन्धी समस्याओ से जूझ रहे दम्पत्तियों को आशा की किरण दिखाई दी है.

विशेषज्ञों का मानना है, कि इस नए प्रयोग से न केवल यह समझने में मदद मिलेगी कि मानव अंडे किस प्रकार से बनते हैं बल्कि यह कीमोथेरेपी अथवा रेडियोथेरेपी से गुजर रही महिलाओं जिनमें समयपूर्व प्रजनन क्षमता का हृास हो जाता है उनके लिए नये रास्ते खोलने का काम करेगा. वैज्ञानिकों के अनुसार उन्होंने इससे पहले इस प्रयोग को चूहों पर किया था जिसमे वे सफल साबित हुए, उसके बाद उन्होंने मानव के अंडे बनाने की प्रक्रिया प्रारंभ की.blast-news

शोधकर्ता प्रोफेसर ई टेल्फर ने कहा, ‘‘ इस सिद्धांत का साक्ष्य मिलना उत्साहवर्धक है कि मानव ऊतक में इस चरण तक पहुंचना संभव हैं. लेकिन अंडों की गुणवत्ता का परीक्षण और इसे संरक्षित करने की स्थितिओं में सुधार के लिए बहुत काम करने की जरूरत है.’ आपको बता दें, कि आज की प्रदुषणयुक्त और तनावग्रस्त जीवनशैली के कारण पुरुषों और महिलाओं में प्रजनन सम्बन्धी समस्या बढ़ती जा रही है, आने वाले समय में इस खोज से उन्हें लाभ मिलने की संभावना जताई जा सकती है.

Filed in: ज़रा हटके, टॉप 10

No comments yet.

Leave a Reply