3:15 am - Sunday September 24, 2017

समुद्र में बह कर आई इस चीज की सच्चाई आई सामने तो खुला 10,000 साल पुराना राज!

mamta_bannerji_760_1494385511_650x488-300x225दुनियाभर में आये दिन कोई न कोई अजीबो-गरीब खोज होती ही रहती हैं। कभी ज़मीन की खुदाई में कुछ निकलता है तो कभी समुद्र की गहराई में हुई खोज हमें चकित कर देती है। हाल ही में एक बड़ी खोज हुई है जिसकी चौंकाने वाली तस्वीरें भी सामने आई हैं। हम आज आपको इस खोज के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे लोग पत्थर समझ रहे थे लेकिन वो पत्थर नहीं बल्कि 10000 साल पुराना कुछ और ही था।

2जोस अंटोनिओ नीवास नाम के एक शख्स ने इस तस्वीरों को साझा किया है। जोस उस वक्त क्रिसमस के दौरान buenos aires में अपने फार्महाउस में छुट्टियां मना रहे थे। उनका यह फार्महाउस समुद्र तट से थोड़ी सी ही दूरी पर है और अक्सर समुद्र से कुछ न कुछ बह कर उनके फर्म तक पहुँच जाता है। ये पत्थर जैसी चीज़ दिखने वाली चीज़ भीं बहकर फार्म में आकर लग गई थी तभी इसे स्थानीय लोगों ने देखा और पत्थर समझ सोच में पड़ गए। लेकिन यह पत्थर नहीं था।जबकि फार्म हाउस का मालिक इसे पत्थर नहीं बल्कि डायनासोर का अंडा समझ रहा था और उसने इसीलिए इसकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर पोस्ट भी किया था।

 varsha

यह मामला अर्जेंटीना का है। दरअसल वो पत्थर नहीं बल्कि 10000 साल पुराने एक स्तनपायी जानवर का खोल था लेकिन उन लोगों ने ज्यादा ध्यान नहीं दिया। वो अब तक उसे पत्थर ही समझ रहे थे। हालांकि जब स्थानीय लोगों द्वारा इस बात का पता प्रशासन के साथ लोगों ने इस बात की ठीक से जांच की और कई सारी फोटो भी निकाली।

 2

कुछ ही समय के बाद जब वो लोग वापस अपने घर गए और सोशल मीडिया पर वो फोटो पोस्ट की तब उनके कॉलेज के एक प्रोफेसर Dr. Ross MacPhee ने वो फोटो देख ली फोटो देखते ही उस प्रोफेसर के पसीने छूट गए, वो सोचने लगे कि ये कैसे मुमकिन है। आखिर उस प्रोफेसर ने ऐसा क्या देखा उस फोटो में। उस प्रोफेसर ने अचानक उन छात्रों से पूछा कि ये तस्वीर कहां की है।

 1

जगह का पता लगने के बाद बाद वो प्रोफेसर अपनी टीम लेकर उस जगह पर गए तो देखा तो वो पत्थर उस जगह पर नहीं था वो पत्थर अचानक कहीं गायब हो गया था जैसे अचानक समंदर उन्हें निगल गया हो। लेकिन उस प्रोफेसर को वहीं पर एक टूटी हुई शेल मिली जो की उसी पत्थर की बची हुयी थी।

 इसी शेल से इस बात का पता लगाया गया कि वो अंडा एक डायनासोर का नहीं बल्कि स्तनपायी जानवर का खोल था।

Filed in: ज़रा हटके

No comments yet.

Leave a Reply