6:33 pm - Wednesday September 20, 2017

सरकार अब जारी करेगी 100 रुपये का सिक्‍का,

2पटना : तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. एमजी रामचंद्रन की जन्‍म शताब्‍दी के दिन सरकार सौ और पांच रुपये का एक नया सिक्‍का जारी करेगी। यह घोषणा वित्‍त मंत्रालय ने एक अधिसूचना में दी है।

कैसा होगा 100 रुपये का सिक्का?

सौ रुपये का नया सिक्का 44 मिलीमीटर का होगा। इसका वजन 35 ग्राम होगा। इस के अगले भाग पर अशोक स्तंभ बना होगा जिसके नीचे सत्यमेव जयते लिखा होगा। अशोक स्तंभ एक ओर भारत और एक ओर INDIA लिखा होगा। इसके नीचे अंकों में 100 लिखा होगा।

सिक्के के पिछले भाग पर एमजी रामचंद्रन की फोटो बनी होगी। इस फोटो के नीचे 1917-2017 लिखा होगा। सौ रुपये का यह नया सिक्का चार धातुओं को मिलाकर बनेगा। इसमें 50% चांदी, तांबा 40%, निकल 5% और जस्ता 5% होगा।

पांच रुपये के सिक्के में क्या होगा खास

पांच रुपये का सिक्का 23 मिलीमीटर का होगा। इसका वजन 6 ग्राम का होगा। इसके अगले भाग पर अशोक स्तंभ बना होगा, जिसके नीचे सत्यमेव जयते लिखा होगा। अशोक स्तंभ एक ओर भारत और एक ओर INDIA लिखा होगा। इसके नीचे अंकों में 5 लिखा होगा। सिक्के के पिछले भाग पर एम.जी. रामचंद्रन की फोटो बनी होगी। इस फोटो के नीचे 1917-2017 लिखा होगा। पांच रुपये का यह नया सिक्का तीन धातुओं तांबा 75%, जस्ता 20% और निकल 5% से मिलकर बना होगा।

कौन हैं एमजी रामचंद्रन?
मरुथुर गोपालन रामचंद्रन एमजी रामचंद्रन के नाम से अधिक विख्यात हैं. उनके चाहने वाले लोग उन्हें एमजीआर के नाम से याद करते हैं. वह एक प्रसिद्ध भारतीय अभिनेता, फिल्म निर्माता और राजनेता थे. अपनी जवानी के दिनों में ही वह भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में शामिल हो गए. अपने सिद्धांतों और इंदिरा गांधी से प्रभावित होकर उन्होंने राजनीति में प्रवेश किया था. तमिल सिनेमा में 30 साल से अधिक समय तक राज करने वाले एमजी रामचंद्रन ने 100 से अधिक फिल्मों में काम किया. उन्होंने बाद में डीएमके पार्टी से हाथ मिला लिया.

एम जी रामचंद्रन के पास राजनीति में सफल होने का बहुत अच्छा मौका था, क्योंकि वह तमिल फिल्म अभिनेता के तौर पर सुप्रसिद्ध हो चुके थे. आगे चलकर एमजीआर ने अपनी स्वयं की राजनीतिक पार्टी की स्थापना की, जिसे एडीएमके नाम दिया गया. इसके बाद उन्होंने तमिलनाडु का मुख्यमंत्री बनकर इतिहास रचा. एमजी रामचंद्रन भारत की ऐसी पहली फिल्मी हस्ती हैं जो किसी राज्य के मुख्यमंत्री बने.

Filed in: टॉप 10, व्यापार

No comments yet.

Leave a Reply