3:11 pm - Thursday November 25, 0686

‘‘स्व. इंदिरा गांधी जन अधिकार पदयात्रा’’: भूपेश बघेल ने सरकार को लिया आड़े हाथ,कहा-किसानों ने सबसे ज्यादा CM के गृह जिले में कि आत्महत्या

3-copyरायपुर : 13 से 18 नवंबर तक स्व. राजीव गांधी पंचायती राज संगठन के तत्वाधान में ‘‘स्व. इंदिरा गांधी जन अधिकार पदयात्रा’’ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष के नेतृत्व में निकाली जा रही है। इसी कड़ी आज दूसरे दिन सुबह 10.00 बजे इंदिरा जन अधिकार पदयात्रा बेलगांव से माड़ीतराई, बड़े कुसमी, मुसराखुर्द, मुसराकला, भानपुरी, हल्दी, बम्हनी तथा सकुल दैहान तक पहुंची तथा सकुल दैहान में सभा का आयोजन किया गया। पदयात्रा के दूसरे दिन मुसराकला ग्राम में आयोजित अंचल से आये लोगों की सभा को संबोधित करते हुये प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने कहा कि आधुनिक भारत के नींव रखने वाले देश के प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू जी की आज जयंती है। जिन्होने भिलाई स्टील प्लांट की नींव रखी थी और सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि स्व. इंदिरा गांधी शताब्दी समारोह के परिपेक्ष्य में आयोजित यह इंदिरा जन अधिकार पदयात्रा भी मां बम्लेश्वरी (राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र) मां के शहर में शुरू होकर उसी भिलाई शहर में जाकर समाप्त होगी जिस भिलाई में एशिया के सबसे प्रमुख इस्पात उद्योग की आधारशिला प्रथम प्रधानमंत्री पं. जवाहर लाल नेहरू जी ने रखी थी। इस इस्पात उद्योग के कारण छत्तीसगढ़ में जबर्दस्त आर्थिक उन्नति एवं खुशहाली आयी।b
प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल ने कहा कि राजनांदगांव लोकसभा क्षेत्र से ये पदयात्रा शुरू करने का दो महत्वपूर्ण कारण है पहला कि मां के आर्शीवाद के बिना कोई भी काम सफल नहीं हो पाता है तथा दूसरा कारण यह है कि छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा आत्महत्या किसानों ने इसी क्षेत्र जो कि छत्तीसगढ़ के मुखिया का है राजनांदगांव से की है। उन्होने आगे कहा कि मैं गांव-गांव पदयात्रा करते आ रहा हूं और देख रहा हूं कि किसानों के खेत सूखे पड़े है किसी में भी हरियाली नहीं दिख रही है। किसानों को खेतों में पानी तक नहीं दिया जा रहा है। ये भाजपा के लोग बार-बार कांग्रेस से 60 साल का हिसाब पूछते है।3
श्री बघेल ने कहा कि मैं इनसे पूछता हूं कि 14 वर्षो से इनकी सरकार इस राज्य में है, पदयात्रा के दौरान मैने सड़कों की स्थिति देखी जर्जर हो चुकी है, जगह-जगह बड़े-बड़े गड्ढे है, बिना मुंह में गमछा बांधे इस सड़क से गुजर पाना मुश्किल है। ये सरकार सिर्फ कमीशनखोरी में लगी है, सड़क बनाने से लेकर, पुल बनाने, एनीकट बनाने, चांवल बांटने, शक्कर बांटने, नमक बांटने यहां तक सरकार इतना गिर गई है कि शौचालय बनाने में भी कमीशन ले रही है। कमीशन का खेल ये राज्य सरकार खुलेआम खेल रही है। सड़कों में मुरूम के बदले छुई मिट्टी का उपयोग किया जा रहा है। 65 हजार रू. सड़को के नाम से सरकार ने प्रस्तावित किया है, किन्तु सड़को की स्थिति देखते हुये ऐसा लग रहा है कि सड़क बनाने में भारी भ्रष्टाचार किया जा रहा है। आज इस पदयात्रा में प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल जी के साथ सैकड़ों की संख्या में उस अंचल के रहवासी, कांग्रेस पार्टी के पदाधिकारी एवं कार्यकर्तागण शामिल हुये।b
जनाधिकार पदयात्रा के दूसरे दिन मुसरा गाँव में राजीव गांधी पंचायती राज संगठन द्वारा आयोजित है, जिसमें आज प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल के साथ विधायकगण श्री मोहन मरकाम, दलेश्वर साहू, सेवादल प्रमुख चैनसिंह सामले, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती चित्रलेखा वर्मा, नीलम चन्द्राकर, नवाज खान, जिलाध्यक्ष जितेंद्र मुदलियार सहित हजारों की तादात में महिलाएं, ग्रामीण जनो ने पदयात्रा में शिरकत किया।1

दिनांक 15 नवंबर 2017 बुधवार को सुबह 10.00 बजे सुकुल दैहान से लिटिया, बाबूटोला, नवागांव, मोतीपुर वार्ड राजनांदगांव, तुलसीपुर लेबर काॅलोनी, जयस्तंभ चौक में आमसभा होगी जिसमें पूर्व मंत्री एवं वरिष्ठ नेता सत्यनारायण शर्मा सहित प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की इंदिरा जन अधिकार पदयात्रा में उपस्थिति होगी।

 

 

Filed in: छत्तीसगढ़, टॉप 10, पॉलिटिक्स

No comments yet.

Leave a Reply