7:57 pm - Tuesday January 23, 2018

3 क्रू मेंम्बर्स के साथ वायुसेना का हेलिकॉप्टर हुआ लापता

1Firoz Siddiqui,chief Editor,9644670008

नई दिल्ली: अरुणाचल प्रदेश में बुधवार को भारतीय वायुसेना (आईएएफ) के लापता हेलिकॉप्टर की तलाश दूसरे दिन भी जारी है। इस हेलिकॉप्टर में चालक दल के तीन सदस्य सवार थे।

अरुणाचल प्रदेश पुलिस के प्रमुख संदीप गोयल ने बताया, ‘राज्य पुलिस के साथ सेना, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के बचाव दल लापता हेलीकॉप्टर का पता लगाने के लिए पपुम पारे जिले के यूपिया और होज तेलम के बीच जंगल और पहाड़ी क्षेत्रों में खोजबीन कर रहे हैं।’

बदा दें कि इस घटना के पहले सीएम रिजिजू के हेलिकॉप्टर की भी इमरजेंसी लैंडिग की गई थी। इस दौरान रिजिजू ने ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी कि उत्तर-पूर्वी मौसम बहुत खराब है। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि ‘मैं सुरक्षित हूं, लेकिन पूरा राज्यतंत्र वायु सेना के हेलिकॉप्टर को ढूंढने में लगा हुआ है।

पुलिस अधिकारियों ने प्रत्यक्षदर्शियों के हवाले से बताया कि ऐसा हो सकता है कि हेलीकॉप्टर तोरू में होस्तलाम और बोरम के बीच दुर्घटनाग्रस्त हो गया हो। आईएएफ का उन्नत हल्का हेलिकॉप्टर (एएलएच) राज्य में बाढ़ बचाव कार्यो में लगा हुआ है। यह हेलिकॉप्टर मंगलवार को अपराह्न 3.50 बजे लापता हो गया था।

यह हेलिकॉप्टर भारी बारिश के बाद जमीन धंसने की वजह से सागले और डमबुक में फंसे लोगों को निकालने का काम कर रहा था। रक्षा प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल सोंबित घोष ने कहा कि हेलिकॉप्टर मंगलवार सुबह जोरहट स्थित अपने बेस से बाढ़ बचाव कार्यो में शामिल होने के लिए रवाना हुआ था।

सीएम किरण रिजिजू का हेलिकॉप्टर दरअसल राजभवन की ओर जा रहा था। लेकिन उसे खराब मौसम के चलते ईटानगर पॉलिटेक्निक खेल मैदान में ही उतारना पड़ा। इस दौरान उनके साथ हेलिकॉप्टर में उनके अलावा 7 अन्य लोग सवार थे।

इससे पहले 23 मई को भारतीय वायुसेना का सुखोई फाइटर जेट भी लापता हो गया था। इस हेलिकॉप्टर में 2 क्रू मेंबर बैठे हुए थे। तीन दिन बाद इसका मलबा बरामद हुआ था।

 

Filed in: असम

No comments yet.

Leave a Reply