3:19 pm - Saturday February 24, 9049

UP : छुट्टी के लिए चाकू से मारा, आरोपी लड़की ने जुर्म कबूलने से किया इनकार, प्रिंसिपल अरेस्ट,पीड़ित से मिले CM

bhaiनई दिल्ली:  लखनऊ के ब्राइटलैंड स्कूल में पढ़ने वाले पहली कक्षा के छात्र रितिक को 7 वीं कक्षा की एक छात्रा ने शौचालय में बंधक बनाकर चाकू से हमला कर दिया।

घायल छात्र को स्कूल प्रशासन ने परिजनों को सूचना देने के बाद बुधवार को ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया गया। जहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को घायल छात्र से मुलाकात की और बच्चे के हालात जाने।

आरोपी लड़की ने अपना जुर्म कबूल करने से इनकार कर दिया है। लडकी का कहना है कि उसने ऋतिक को चाकू नहीं मारा। वहीं पुलिस का दावा है कि ऋतिक के पास से आरोपी लड़की के बाल मिले हैं जिससे उसकी पहचान हुई। पुलिस ने उस बाथरूम से बाल बरामद किए हैं जहां मासूम ऋतिक पर हमला हुआ था। एसएसपी दीपक कुमार ने कहा कि पुलिस ने 24 घंटे तक हमलावर लड़की को छिपाया। पीड़ित लड़के के पास से आरोपी लड़की के बाल मिले जिसके बाद लड़की की पहचान की जा सकी। बाल को डीएनए टेस्ट के लिए भेजा गया है। पुलिस के मुताबिक 11 साल की लड़की ने छात्र को चाकू मारा था। इस मामले में आरोपी नाबालिग छात्रा और स्कूल के प्रिंसिपल को गिरफ्तार किया गया है।

लखनऊ के एसएसपी दीपक कुमार ने कहा, ‘छात्र पर छात्रा के द्वारा सब्जी काटने वाले चाकू से हमला किया गया था। हमने छात्र के बॉडी पर से मिले बाल को डीएनए टेस्ट के लिए भेजा है। छात्रा को जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड के सामने पेश किया जाएगा। स्कूल प्रिंसिपल को गिरफ्तार कर लिया गया है।’blast-news

लखनऊ के डीएम ने निजी न्यूज चैनल से खास बातचीत करते हुए कहा कि इस मामले में स्कूल की भारी लापरवाही है। उन्होंने घटना को छिपाया। FIR में स्कूल प्रशासन का नाम भी जोड़ा जाएगा।

उन्होंने कहा, ‘गुरुग्राम हादसे के बाद ही सभी स्कूलों को बच्चों की सुरक्षा के उपाय करने को कहे गए थे अब हम और सख्ती करेंगे और जिस स्कूल में लापरवाही मिली। उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई भी करेंगे।’

वहीं स्कूली छात्रों के अभिभावकों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर नारेबाजी की। प्रदर्शकारियों का कहना है कि मामले को दबाने की कोशिश की गई।

रितिक के पिता राजेश सिंह का कहना है कि स्कूल के अंदर इतनी जघन्य वारदात होने के बाद भी स्कूल प्रशासन ने पुलिस को घटना की सूचना नहीं दी और उन्हें भी पुलिस को सूचना देने से मना किया। लेकिन जब दबाव बढ़ा तो स्कूल प्रशासन ने बुधवार को घटना के बारे में पुलिस को सूचना दी।

बताया जा रहा है कि छात्रा ने स्कूल में छुट्टी को लेकर छात्र पर हमला किया।

छात्रा के हमले में घायल छात्र रितिक के पिता अलीगंज थाना क्षेत्र के त्रिवेणीनगर निवासी राजेश सिंह हाईकोर्ट में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं। रितिक त्रिवेणीनगर-3 स्थित ब्राइटलैंड इंटर कॉलेज में कक्षा एक का छात्र है।

मंगलवार को रितिक को उसी स्कूल की छात्रा ने शौचालय में बन्द कर दिया और उसके हाथ पैर बांध दिए। इसके बाद उसे चाकू मारकर लहूलुहान कर दिया। एसपी हरेंद्र कुमार ने कहा, ‘पुलिस ने गंभीरता से मामले की जांच करने का निर्णय लिया है।’

उन्होंने बताया कि पुलिस को दिए गए अपने बयान में रितिक ने जूनियर सेक्शन की एक छात्रा पर आरोप लगाया है। उसने कहा कि छात्रा ही उसे शौचालय ले गई और दुपट्टे से दोनों हाथ बांधकर चाकू से उस पर कई वार किए।

छात्र जब चीखने लगा तो उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया और लहूलुहान हालत में ही उसे शौचालय में बंद करके भाग गई। छात्र ने दरवाजा खटखटाया तो स्कूल के डिसिप्लिन इंचार्ज अमित सिंह आए।

दरवाजा खोलने पर नजारा देखकर वह चीख पड़े। उन्होंने स्कूल के प्रशासन को इसकी खबर दी और घायल छात्र को देवकी अस्पताल ले गए जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए उसे ट्रॉमा सेंटर भेज दिया गया।

 

Filed in: उत्तर प्रदेश, जुर्म, टॉप 10, बड़ी खबर

No comments yet.

Leave a Reply